NIA Raids JMB: तीन राज्यों में एनआईए की छापेमारी, पकड़े गए अवैध बांग्लादेशी, युवाओं को जिहाद के लिए उकसाने का आरोप

NIA Raids JMB: तीन राज्यों में एनआईए की छापेमारी, पकड़े गए अवैध बांग्लादेशी, युवाओं को जिहाद के लिए उकसाने का आरोप

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: कीर्तिवर्धन मिश्र
Updated Wed, 15 Jun 2022 10:41 PM IST

ख़बर सुनें

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने बुधवार को मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार में छह अलग-अलग जगहों पर छापेमारी कर प्रतिबंधित संगठन जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

बताया गया है कि मध्य प्रदेश के भोपाल में चार स्थानों पर और बिहार के कटिहार और उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में एक-एक स्थान पर छापेमारी की गई। एनआईए के प्रवक्ता ने कहा कि भोपाल के एक घर से तीन अवैध बांग्लादेशी प्रवासियों सहित जेएमबी के छह सक्रिय कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया।

प्रवक्ता ने कहा कि उन पर जेएमबी की विचारधारा के प्रचार और संवेदनशील युवाओं को भारत के खिलाफ जिहाद के लिए प्रेरित करने में शामिल होने का संदेह है। शुरू में मार्च में भोपाल में मामला दर्ज किया गया था। अप्रैल में एनआईए ने फिर से मामला दर्ज कर जांच अपने हाथ में ले ली।

एनआईए ने कहा कि छापेमारी के दौरान मोबाइल फोन, सिम कार्ड और मेमोरी कार्ड, बैंक खातों का विवरण, अपराध में इस्तेमाल होने वाले दस्तावेज, जिहादी साहित्य और डिजिटल उपकरण जब्त किए गए हैं। मामले की जांच जारी है।

Table of Contents

विस्तार

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने बुधवार को मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार में छह अलग-अलग जगहों पर छापेमारी कर प्रतिबंधित संगठन जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

बताया गया है कि मध्य प्रदेश के भोपाल में चार स्थानों पर और बिहार के कटिहार और उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में एक-एक स्थान पर छापेमारी की गई। एनआईए के प्रवक्ता ने कहा कि भोपाल के एक घर से तीन अवैध बांग्लादेशी प्रवासियों सहित जेएमबी के छह सक्रिय कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया।

प्रवक्ता ने कहा कि उन पर जेएमबी की विचारधारा के प्रचार और संवेदनशील युवाओं को भारत के खिलाफ जिहाद के लिए प्रेरित करने में शामिल होने का संदेह है। शुरू में मार्च में भोपाल में मामला दर्ज किया गया था। अप्रैल में एनआईए ने फिर से मामला दर्ज कर जांच अपने हाथ में ले ली।

एनआईए ने कहा कि छापेमारी के दौरान मोबाइल फोन, सिम कार्ड और मेमोरी कार्ड, बैंक खातों का विवरण, अपराध में इस्तेमाल होने वाले दस्तावेज, जिहादी साहित्य और डिजिटल उपकरण जब्त किए गए हैं। मामले की जांच जारी है।

[ad_2]

Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status
error: Content is protected !!